Breaking News

बीएसएफ को बड़ी सफलता, 20 किलो गांजा व मवेशी के साथ तीन तस्कर चढ़े हत्थे, तस्करी गिरोह का भंडाफोड़

 

बीएसएफ कमांडेंट

 

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा की सुरक्षा में तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर अंतर्गत 153वीं वाहिनी के जवानों ने ड्यूटी के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को सिद्ध करते हुए एक बार फिर तस्करों के मंसूबों पर पानी फेरते हुए नशीले पदार्थों की तस्करी को नाकाम कर बड़ी सफलता हासिल की है। जवानों ने एक विशेष अभियान में सीमा चौकी दोबिला के इलाके से 20 किलोग्राम गांजा के साथ दो तस्करों को दबोचा, जिनमें एक बांग्लादेशी है। इसके अलावा एक अन्य घटना में सीमा चौकी कैजुरी के जवानों ने एक बछड़े के साथ एक कुख्यात बांग्लादेशी पशु तस्कर को गिरफ्तार किया। 153वीं वाहिनी के कमांडेंट जवाहर सिंह नेगी ने बताया कि गांजा और मवेशी की बांग्लादेश में तस्करी की कोशिश की जा रही थी। उन्होंने बताया कि यह घटना बुधवार देर रात की है, जब सीमा चौकी दोबिला के जवानों ने एक खुफिया सूचना पर कार्रवाई करते हुए जाल बिछाकर बांग्लादेशी व भारतीय तस्करों को गांजा के साथ दबोचा। तस्कर गांजा को सीमा पार कराकर बांग्लादेश में तस्करी की फिराक में थे। पकड़े गए तस्करों के नाम असदुल इस्लाम (29) व धनंजय राय (19) है। इनमें असदुल बांग्लादेश के सतखीरा जिले का जबकि भारतीय तस्कर धनंजय उत्तर 24 परगना के दोबिला गांव का रहने वाला है। अधिकारियों ने बताया कि तस्कर से पूछताछ में सीमावर्ती इलाके में सक्रिय एक बड़े तस्करी गिरोह का भी भंडाफोड़ हुआ है। पूछताछ के दौरान भारतीय तस्कर धनंजय राय ने बताया कि वह पिछले कुछ समय से तस्करी गतिविधियों मे शामिल है। उसने गांजा आरिफ (गांव- खलसी, स्वरूपनगर) से लिया था जिसे बांग्लादेशी तस्कर असादुल इस्लाम को सौंपना था। जिसके बदले उसे 2,000 रुपये मिलने थे। लेकिन उससे पहले ही सतर्क बीएसएफ जवानों ने दोनों को गांजे के बैग के साथ पकड़ लिया। आगे उसने बताया कि सीमावर्ती इलाके मे गांजे की तस्करी में एक बड़ा गिरोह सक्रिय है। उसने कई लोगों के नामों का भी खुलासा है, जिनमे निमाय राय (34), गोरंगो सरकार (32), लेनिन सरकार (34) जैसे कुछ प्रमुख नाम शामिल हैं। ये सभी गांव माजीरपारा, दोबिला, थाना- स्वरूपनगर के रहने वाले हैं।

 

गांजा के साथ गिरफ्तार दोनों तस्कर।

 

कुख्यात बांग्लादेशी पशु तस्कर खोकन को बछड़े के साथ पकड़ा

दूसरी घटना में बुधवार व गुरुवार की मध्यरात्रि में सीमा चौकी कैजुरी इलाके में खुफिया सूचना पर कंपनी कमांडर ने घात की योजना बनाकर कुख्यात बांग्लादेशी पशु तस्कर खोकन सरदार को एक बछड़े के साथ दबोचा। खोकन बांग्लादेश के सतखीरा जिले का रहने वाला है। बीएसएफ अधिकारी के अनुसार, खोकन मवेशियों की सीमा पार तस्करी में लंबे समय से लिप्त रहा है और उसका पकड़ा जाना एक बड़ी उपलब्धि है। बीएसएफ ने आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए पकडे गए तस्करों को पुलिस स्टेशन स्वरूपनगर के हवाले कर दिया है। वहीं, बछड़े को ध्यान फोडेशन के सपुर्द किया जा रहा है।

कमांडेंट ने जवानों की थपथपाई पीठ, कहा- किसी सूरत में नहीं होने देंगे तस्करी

इधर, इस उपलब्धि पर कमांडेंट जवाहर सिंह नेगी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अपने जवानों की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि यह केवल ड्यूटी पर तैनात उनके जवानों द्वारा प्रदर्शित सतर्कता के कारण ही संभव हो सका है। अधिकारी ने साफ शब्दों में कहा कि वह अपनी जिम्मेदारी के इलाके से किसी सूरत में तस्करी व अन्य सीमा पार अपराध नहीं होने देंगे।

About editor

Check Also

संदेशखाली की घटना ने मध्ययुगीन बर्बरता को भी मात दे दिया है : शिवराज

  हावड़ा : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल के संदेशखाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *