Breaking News

47 वे कोलकाता बुक फेयर का आगाज

 

संघमित्रा सक्सेना

47 वीं कोलकाता बुक फेयर की शुरुवात की घोषणा हो गई। सोमवार साधारण संपादक सुधांशु शेखर दे और अध्यक्ष त्रिदीब कुमार चैटर्जी की उपस्थिति में यह घोषणा हुआ कि 18 जनवरी 2024 की 47 वीं इंटरनेशनल कोलकाता बुक फेयर की शुरुवात की जाएगी। यह मेला 31 जनवरी तक चलेगी।

*कौन कौन 47 वीं कोलकाता इंटरनेशनल पुस्तक मेला में शिरकत करेंगी*

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की करकमलों द्वारा पुस्तक मेला की विमोचन होगी। इसके अलावा सम्मानिय अतिथि की जगह लेंगे भारत और ब्रिटिश उप हाई कमिश्नर मिस्टर एलेक्स एलिस सिएमजी, भारत ब्रिटिश काउंसिल कंट्री डायरेक्टर एलिसन बैरेट एम बी ई, विशिष्ट भारतीय साहित्यिक श्रीमती वाणी वासु सहित सभी साहित्यकार, कवि और लेखक संप्रदाय।

*47 वीं इंटरनेशनल कोलकाता बुक फेयर की खास बातें*

* कुल 1000 स्टॉल होंगी।

* सीनियर सिटीजन दिवस ” चिरोटोरून ” उद्यापन होगा 24 जनवरी।

* इस मेले में प्रवेश की लिए कुल 9 मुख्य द्वार होगी।

* इसमें एक गेट लंदन की टावर ब्रिज की तरह बनाया गया है।

* बेथुन स्कूल की 175 साल पूरा होने पर एक गेट स्कूल के मुख्य द्वार की तरह बनाया गया है।

 

 

* इसके अलावा विश्वबांग्ला गेट।

* ताराशंकर बंधोपाधाय और लोरकर की स्मृति में 125वीं साल पूरा होने पर एक गेट की निर्माण की गई हैं।

* बुक फेयर की दो हॉल समरेश मजूमदार और ए एस बयात की नाम से बनी हैं।

*बच्चों की पवेलियन सष्ठिपद चैटर्जी और पांडव गोयेंदा की थीम पर बनी हैं।

* परिवहन दफ्तर पश्चिमबंगल विशेष बस परिसेवा दे रही है।

 

*. हेल्थ पार्टनर हर बार की तरह पीरलेस अस्पताल और रिसर्च सेंटर हैं।

*सी ई एस सी ने बुक फेयर एंड्रॉयड एप को प्रमोट की

*मेघबाला ब्रॉडब्रैंड कोलकाता इंटरनेशन बुक फेयर की ब्रॉड ब्रांड पार्टनर हैं।

*इस बार कुल 20 देश कोलकाता इंटरनेशनल बुक फेयर में हिस्सा ले रही हैं।

* मेला में आनेवाले सभी को क्यूवार कोड की मदद से मेला की डिजिटल मैप लेना होगा।

* 2024 कोलकाता इंटरनेशनल बुक फेयर की मुख्य आकर्षण लिटरेचर फेस्टिवल हैं, यह 26 से 28 जनवरी तक चलेगी। साधारण संपादक सुधांशु शेखर दे और अध्यक्ष त्रिदीब कुमार चैटर्जी,

गिल्ड की सदस्य पब्लिशर्स और बुक सैलर शिलादित्य सरकार, सुदीप्ता दे, सुभांकर दे सहित कई गणमान्य व्यक्ति घोषणा समारोह में उपस्थित रहे।

 

About editor

Check Also

संदेशखाली की घटना ने मध्ययुगीन बर्बरता को भी मात दे दिया है : शिवराज

  हावड़ा : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल के संदेशखाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *