Breaking News

इंडिया गठबंधन को लेकर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा एक दिल के टुकड़े हजार हुए कोई इधर गीरा कोई उधर गीरा

 

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने संदेशखाली घटना पर राज्य सरकार की आलोचना की. आज हावड़ा में पार्टी की संगठनात्मक बैठक के अंत में उन्होंने कहा कि संदेशखाली में जिस तरह से महिलाओं पर अत्याचार हुआ, वह राज्य के लिए शर्म की बात है.

 

राज्य की मुख्यमंत्री एक महिला हैं. लेकिन वह महिलाओं को कोई सुरक्षा नहीं दे सकते. हम चाहेंगे कि राष्ट्रीय महिला आयोग और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की टीमें यहां आएं और पूरी घटना की जांच करें।

अपराधियों को कभी नहीं छोड़ा जाना चाहिए. क्या बीजेपी इस संबंध में सीबीआई जांच चाहती है, इस बारे में कोई जवाब दिए बिना उन्होंने कहा कि वे पूरी घटना की उच्च स्तरीय जांच चाहते हैं.

 

इस दिन उन्होंने राज्य की कानून-व्यवस्था को लेकर व्यावहारिक तौर पर राज्य सरकार को आड़े हाथों लिया. उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य में हिंसा और भ्रष्टाचार बढ़ रहा है. पश्चिम बंगाल की जो प्रतिष्ठा थी वह आज घोटालों का प्रदेश बन गई है। इस दिन उन्होंने यह भी कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी को 35 से ज्यादा सीटें मिलें, इसके लिए उन्होंने यहां नेताओं और कार्यकर्ताओं से चर्चा की है.

राज्य सरकारें अपने नाम पर केंद्र सरकार की योजनाएं चला रही हैं. वे उन मुद्दों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास कार्यों को जन-जन तक पहुंचाने का काम करेंगे. उन्हें उम्मीद है कि पार्टी पश्चिम बंगाल में भी लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करेगी.

 

उन्होंने विपक्षी भारत गठबंधन पर निशाना साधते हुए आज कहा कि एक दिल के टुकड़े हजार हुए कोई इधर गीरा कोई उधर गीरा और यह हर तरफ फैल गया है.ममता बनर्जी सीधे सवाल कर रही हैं कि क्या कांग्रेस में चालीस सीटें जीतने की क्षमता है. वह यहां अकेले लड़ना चाहता है. पंजाब में अकेले लड़ेंगे अरविंद केजरीवाल. यानी भारत गठबंधन बनने से पहले ही टूट गया. उस गठबंधन के कई लोग अब हमारे एनडीए गठबंधन में शामिल होना चाहते हैं.

 

About editor

Check Also

संदेशखाली की घटना ने मध्ययुगीन बर्बरता को भी मात दे दिया है : शिवराज

  हावड़ा : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल के संदेशखाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *