Breaking News

एक शादी समारोह से अपहृत बच्चे को हावड़ा के सकराइल स्थित एक मंदिर से बरामद किया गया.

कालीघाट इलाके में एक शादी समारोह से अपहृत बच्चे को हावड़ा के सकराइल से बरामद किया गया. कल रात उसे सड़क किनारे स्थित एक मंदिर में तौलिये से लिपटा मिला. बच्चे को आज उसके माता-पिता को सौंप दिया गया.
आज भी जब आप सच्चे मन से भगवान को पुकारते हैं तो वो आपकी सहायता के लिए अवस्य ही किसी न किसी रूप मे आपकी सहायता करते हैं।
  गत रविवार दोपहर कालीघाट थाने के भारत सेवाश्रम संघ सभागार में शादी समारोह था।  शादी समारोह में कोलकाता के तलतला इलाके के रहने वाले सुभाष साव मौजूद थे.  वह अपनी पत्नी खुशबू साव और दस माह के बेटे आयुष साव के साथ शादी के घर गए थे।  शाम साढ़े चार बजे के करीब जब बच्चा मां की गोद में रो रहा था तो एक अजनबी ने मदद के नाम पर बच्चे को गोद में ले लिया थोड़ी देर में व्यक्ति घर से गायब हो गया.  रविवार की शाम बच्चे की मां ने कालीघाट थाने में लिखित शिकायत दर्ज करायी.  कालीघाट थाने की पुलिस और कोलकाता पुलिस का खुफिया विभाग जांच में जुटी है।  अलग-अलग जगहों पर तलाश की जा रही थी।
सोमवार की शाम साढ़े सात बजे के करीब एक बच्चा अंदुल रोड स्थित एक मंदिर के फर्श पर तौलिये में लिपटा मिला.  बच्चे के रोने की आवाज सुनकर बादल आइच नाम का एक टोटो चालक दौड़ता हुआ आया। उसने कहा कि बच्चा स्वस्थ है। ऐसा लगता है कि बच्चा पकड़े जाने के डर से भाग गया।  घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय लोग मौके पर जमा हो गए।  बांकरा आईसीडीएस केंद्र कर्मी मुनमुन घोष ने बताया कि उस समय वह अपने पति के साथ दुकान जा रही थी।  भीड़ देखकर वह भी खड़ी हो गई ।  फिर बच्चे को गोद में ले लिया।  सांकराइल  थाना पुलिस और स्थानीय माशिला ग्राम पंचायत प्रमुख मौके पर पहुंचे।  स्थानीय निजी अस्पताल में मेडिकल जांच के बाद बच्चे को संकरैल थाने ले जाया गया।घटनास्थल से बच्चे की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी गई।
परिवार के पास अलग-अलग जगहों से फोन आने लगे।  बच्चे के पिता सुभाष साव ने बताया कि शाम को किसी ने फोन कर बच्चे को लेने के लिए अंडुल पेट्रोल पंप पर आने को कहा.  इस प्रकार उसने अपने मित्र से पूछताछ करने के लिए कहा।  उसके दोस्त को खबर मिली और उसने उसे बताया।  उन्होंने यह भी कहा कि बच्चे को शादी समारोह से ही अगवा किया गया था।
रात में कालीघाट थाना पुलिस और कलकत्ता पुलिस के गुप्तचर विभाग के लोग संकरैल थाने पहुंचे.पुलिस सूत्रों के मुताबिक मंदिर में बच्चे को किसने छोड़ा है इसकी जांच की जा रही है.  इसके अलावा इलाके के तमाम सीसीटीवी फुटेज चेक किए जा रहे हैं।  अपहरणकर्ताओं ने बच्चे का अपहरण क्यों किया और उसे क्यों छोड़ा इसकी जांच की जा रही है।  इस बात की भी जांच की जा रही है कि क्या अपहरणकर्ता बाल तस्करी में शामिल थे.बच्चे को उसके माता-पिता को लौटा दिया गया. बच्चे के मिलने से माता-पिता काफी खुश हैं जो भगवान को धन्यवाद दे रहे हैं.

About editor

Check Also

पूर्व तृणमूल पार्षद की दादागिरी.

   हावड़ा:पूर्व पार्षद और उनके साथियों ने बस सिंडिकेट कार्यालय में ताला जड़ दिया. घटना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *