Breaking News

रास्ते पर बिछाए गए ईटों की लोग खुलेआम चोरी कर रहे हैं, प्रशासन आंख मूंदे बैठी है

प्रह्लाद मिश्रा

 

अंधराठाढ़ी: अंधराठाढ़ी पंचायत अंतर्गत हरि के राही उत्तर टोल में ईट से बने रास्ते की एक-एक ईट को दिन के रोशनी में लोग खुलेआम चोरी कर रहे हैं। बताया जाता है कि राही उत्तर व्हाईटोल 14 नंबर वार्ड होते हुए कल्वाहि टोल 13 नंबर वार्ड को जोड़ने वाली यह एक मात्र सड़क है, जिसे काफी समय पहले मिट्टी करण के बाद ईट बिछाकर सुंदर सा सड़क का निर्माण किया गया था । जिससे लोग आना-जाना करते थे लोगों को सुविधा होती थी। साइकिल या अन्य गाड़ियों का आवागमन इस रास्ते से सुगम तरीके से हो रही थी। लेकिन पिछले कई दिनों से इस रास्ते से एक -एक ईट गायब होनी शुरू हुई। स्थानीय कुछ लोगों का कहना है उन्हें जो दृश्य वहां देखने को मिला उससे उन लोगों ने बताया कि रास्ते के ईटों को चोरी करने के लिए चोर रात के अंधेरे का लाभ नही उठाते बल्कि दिन में सूरज की रोशनी में खुलेआम चोरी करते हैं और इस चोरी में क्या छोटे क्या बड़े सभी शामिल हैं। लोग ईटों की चोरी कर अपने घरों में ले जा रहे हैं, लेकिन प्रशासन आंख मूंदे बैठी है। रास्ते से ईटा चोरी करने का वीडियो काफी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हुआ लेकिन प्रशासन कुंभकरण की नींद में सोई हुई है, जो लोगों के द्वारा उठाए जाने पर भी आराम से आंख मूंदे कान में तेल डालकर सोई हुई है।

 

 

रास्ते से ईट गायब होने के कारण इस रास्ते का उपयोग करने वाले लोगों को खासी असुविधा हो रही है, साथ ही बारिश के कारण कीचड़ की समस्या से उन्हें सामना करना पड़ रहा है। वे चाहते हैं कि सरकार इस पर जल्द से जल्द व्यवस्था ले और चोरी रोककर रास्ते का पुनर्निर्माण कराया। स्थानीय निवासियों का कहना है कि लोगों ने ईट की चोरी नहीं की है। रास्ते में ईट खुलने के कारण अक्सर दुर्घटनाएं घटती है सरकार की ओर से मरम्मत व देखरेख नहीं करने के कारण सड़क की जर्जर अवस्था हो गई है, इसलिए जो ईट खुल गए थे उन्हें रास्ते से हटाकर सड़क के किनारे रख दिया जा रहा है। अब देखना है कि प्रशासन इस मामले में कितना संज्ञान लेती है।

About editor

Check Also

संदेशखाली की घटना ने मध्ययुगीन बर्बरता को भी मात दे दिया है : शिवराज

  हावड़ा : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल के संदेशखाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *