Breaking News

बंगाल में तीर्थ स्थलों के विकास पर 700 करोड़ से ज्यादा खर्च किए : ममता

 

 

 

कोलकाता : 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाले राम मंदिर के उद्घाटन की गहमागहमी के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को दावा किया कि प्रसिद्ध कालीघाट मंदिर सहित अन्य तीर्थ स्थलों के विकास पर राज्य सरकार ने 700 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि खर्च की है। राज्य सचिवालय नवान्न में पत्रकारों से बातचीत में ममता ने कहा कि इनमें कोलकाता के प्रसिद्ध कालीघाट मंदिर के जीर्णोद्धार (नवीनीकरण) के लिए हमारी सरकार ने 165 करोड़ रुपये दिए हैं, जिसका काम तेजी से चल रहा है। 60 प्रतिशत से ज्यादा काम हो चुका है। मुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि दीघा में समुद्र किनारे राज्य सरकार 205 करोड़ रुपये की लागत से पुरी की तर्ज पर जगन्नाथ मंदिर बनवा रही है। इसका काम भी अंतिम चरण में है। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि अप्रैल में बांग्ला नववर्ष से पहले कालीघाट मंदिर के जीर्णोद्धार का काम पूरा हो जाएगा। ममता ने कहा कि रियालंस समूह कालीघाट मंदिर के सिर्फ शिखर पर सोने की परत चढ़ाने और कुछ आंतरिक जीर्णोद्धार का कार्य करा रहा है, जिसका बजट लगभग 35 करोड़ है। हमने 165 करोड़ दिए हैं। दक्षिणेश्वर मंदिर की तरह कालीघाट में भी स्काईवाक का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कोलकाता के मेयर व अपनी सरकार में मंत्री फिरहाद हकीम को कालीघाट मंदिर के जीर्णोद्धार का काम जल्द पूरा करने का भी निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने इसके अलावा तारापीठ मंदिर, फुरफुरा शरीफ व अन्य धार्मिक स्थानों व प्रमुख मंदिरों के विकास पर खर्च का भी उल्लेख किया। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार ने इस्कान को 700 एकड़ जमीन देने की पहले ही मंजूरी दी है।

 

अयोध्या जाने के सवाल पर बोलीं ममता- आप जा सकते हैं

 

पत्रकारों द्वारा यह पूछे जाने पर कि क्या वह 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन में शामिल होंगी, ममत ने कहा कि आप जा सकते हैं। आपको कोई नहीं रोक रहा है। ममता ने दोहराया, मैंने पहले भी कहा है कि धर्म किसी की निजी पसंद है, लेकिन त्योहार सभी के लिए है। इससे पहले मंगलवार को ममता ने कहा था कि भाजपा लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन के माध्यम से नौटंकी कर रही है।

 

About editor

Check Also

संदेशखाली की घटना ने मध्ययुगीन बर्बरता को भी मात दे दिया है : शिवराज

  हावड़ा : मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बंगाल के संदेशखाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *