Breaking News

जेल में रची गई थी पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड की साजिश,चार आरोपित गिरफ्तार

Sourav jha

अररिया : अररिया के रानीगंज के प्रखंड पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड का अररिया जिला पुलिस ने खुलासा कर लेने का दावा किया है।अररिया एसपी अशोक कुमार सिंह ने अपने कार्यालय कक्ष में प्रेस कांफ्रेंस आयोजित कर मामले की जानकारी देते हुए हत्याकांड के चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी कर लेने की बात कही। वही नामजद अभियुक्त में से दो अभियुक्त के पहले से ही जेल में बंद होने की जानकारी दी।

हत्याकांड मामले का खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि 2019 में विमल कुमार यादव के भाई शशिभूषण उर्फ गब्बू यादव हत्याकांड मामले में मुख्य सूचक होने के कारण उनके द्वारा गवाही को लेकर ही प्रतिशोध की भावना में हत्या की गई और इस हत्या की साजिश अररिया जेल में बंद रानीगंज के कोशिकापुर के क्रांति यादव पिता -उमेश यादव और सुपौल जेल में बंद रानीगंज बेलसरा के रुपेश यादव पिता – उगेन यादव ने जेल में रची।

एसपी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि विमल कुमार यादव की हत्या को लेकर सुपौल जेल में बंद रुपेश यादव और अररिया जेल में बंद क्रांति यादव उर्फ उमेश यादव ने अपने गुर्गों के माध्यम से पत्रकार की हत्या कराई। उन्होंने बताया कि जेल में बंद दोनों अपराधी मृतक विमल कुमार यादव के सरपंच भाई शशिभूषण यादव उर्फ गब्बू यादव की हत्या के आरोपी है और न्याय अभिरक्षा में जेल में बंद है।

उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों के बयान पर इस मामले में आठ नामजद पर केस दर्ज किया गया है, इसमें पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुए चार लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि दो अन्य की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है वहीं एसपी ने बताया की जेल में बंद रुपेश यादव एवं क्रांति यादव को पुलिस जल्द ही रिमांड पर लेगी और पूछताछ करेगी।इससे साफ हो गया है कि पत्रकार विमल कुमार यादव की हत्या का तार उनके सरपंच भाई की हत्या से जुड़ा हुआ है जो कि विमल यादव अपने भाई के हत्या के मुख्य गवाह थे। इसलिए आरोपियों के द्वारा साजिश रचकर विमल यादव की हत्या कराई गई।

 


उल्लेखनीय है कि इस हत्याकांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संज्ञान लिया था और अधिकारियों को मामले के सभी आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने और सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया था। जिसके बाद पुलिस 24 घंटे के अंदर चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि चौबीस घंटे के भीतर मामले का खुलासा भी किया है। एसपी ने फरार चल रहे दो आरोपितों की भी शीघ्र गिरफ्तारी कर लेने का दावा किया।

 


उल्लेखनीय है कि पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड मामले में
गिरफ्तार किए गए आरोपितों में भरगामा थाना क्षेत्र के भरना गांव के रहने वाले विपिन यादव पिता -छेदी यादव,रानीगंज के बेलसरा के रहने वाले भवेश यादव पिता- लस्सी यादव,आशीष यादव पिता- देवानंद यादव,रानीगंज के कोशिकापुर के रहने वाले उमेश यादव पिता- स्व.तेजनारायण यादव हैं।

इससे पहले रानीगंज के प्रखंड पत्रकार विमल कुमार यादव हत्याकांड मामले में पुलिस ने उनके पिता हरेंद्र प्रसाद सिंह के फर्द बयान पर रानीगंज थाना में प्राथमिकी कांड संख्या -338/2023 दिनांक 18 अगस्त 2023 भादवि की धारा 302/120(बी),34 भादवि एवं 27 सशस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया था।प्राथमिकी में आठ लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज किया गया।आठ नामजद आरोपितों में से चार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

About editor

Check Also

मधुबनी में मुखिया पुत्र दबंगई कर दूसरे पंचायत में करा रहा है अपशिष्ट प्रबंधन केंद्र के भवन का निर्माण के पर रोक .

  सरकारी योजना .सरकारी भूमि सरकारी राशि से काम .मुखिया पुत्र को दबंगई की छूट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *